जनवरी 2018

टाटा 150 लोगो के पीछे निहित विचार

टाटा का लोगो उस विश्वास का प्रतीक है जिसे समूह ने अपने 150 वर्षों की सेवा में हासिल किया है और यह इसके शानदार कल के विजन को अभिव्यक्त करता है

टाटा समूह की स्थापना 1868 में जमशेदजी टाटा द्वारा की गई थी, जिसके मूल उद्देश्य के केंद्र में समाज को रखा गया था।

बीते 150 वर्षों में, समूह की दूरदर्शिता, साहस और परिवर्तनकारी प्रभावों ने इसे एक वैश्विक ऊर्जागृह बनाने में सहायता की है, जबकि समाज समूह द्वारा किए जाने वाले सभी कार्यों के केंद्र में बना हुआ है।

यह लोगो एक उज्ज्वल भविष्य के समूह के दृष्टिकोण को अभिव्यक्त करता है।

जबकि टाटा का लोगो अपने आप में उस विश्वास का प्रतीक है जिसे समूह ने अपनी सेवा के 150 वर्षों में अर्जित किया है, इसके रंग इसकी युवा ऊर्जा तथा समूह की दृष्टि में भविष्य की संभावनाओं को इंगित करते हैं।

लोगो के 150 चक्र एक ग्राफिक बनाते हैं जो समूह के विचारों के साथ परस्पर संबद्ध एक वैश्विक समुदाय को अभिव्यक्त करते हैं।

जबकि 150 स्वयं एक भविष्यमुखी दृष्टिकोण का संकेत देने के लिए आगे की ओर झुका हुआ है।