मार्च 23, 2018

टाटा पावर द्वारा अपने नए चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर और मैनेजिंग डायरेक्टर के रूप में प्रवीर सिन्हा की नियुक्ति की घोषणा

मुंबई: टाटा पावर ने आज अपने नए चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर और मैनेजिंग डायरेक्टर के रूप में प्रवीर सिन्हा की नियुक्ति की घोषणा की जो भारत की अग्रणी ऊर्जा एवं इनफ्रास्ट्रक्चर कंपनी के विस्तार के अगले चरण को लागू करने हेतु 1 मई 2018 से प्रभावी होगी।

श्री सिन्हा अभी टाटा पावर डेल्ही डिस्ट्रीब्यूशन (टीपीडीडीएल) के सीईओ एवं मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। टीपीडीडीएल टाटा पावर एवं राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की सरकार का एक पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (संयुक्त उपक्रम) है जो उत्तर एवं उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सत्तर लाख लोगों को बिजली मुहैया करती है।

श्री सिन्हा के पास ऊर्जा क्षेत्र में तीन दशक का लंबा अनुभव है और उन्हें बिजली वितरण क्षेत्र में रूपांतरण लाने, उसे विकसित करने और भारत तथा विदेशों में ग्रीनफील्ड एवं ब्राउनफील्ड पावर प्लांट की स्थापना का श्रेय दिया जाता है।

टाटा पावर के अध्यक्ष एन चंद्रशेखरन ने कहा, ‘ऊर्जा क्षेत्र में श्री प्रवीर का गहन अनुभव और निष्पादन करने, अधिकतम लाभ हासिल करने और हितधारकों के साथ निर्बाध कार्य करने की उनकी क्षमता टाटा पावर के लिए अत्यंत मूल्यवान होगी क्योंकि यह तेजी से बढ़ने ऊर्जा बाजार में अपनी स्थिति मजबूत करने और अपना विस्तार करने पर बल देते हैं।’

टाटा पावर टाटा समूह की सबसे पुरानी और प्रसिद्ध कंपनियों में हैं और यह मेरा सौभाग्य है कि मैं ऐसी संस्था का नेतृत्व कर रहा हूं। इस कंपनी को इसकी प्रगति के अगले सोपान पर ले जाने में मैं हमारे सभी हितधारकों और कर्मचारियों के साथ मिलकर करने को इच्छुक हूं,’ श्री सिन्हा ने कहा।

श्री सिन्हा ने नेशनल लॉ स्कूल बेंगलुरू से मास्टर डिग्री हासिल की है और वे इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के रूप में भी व्यावसायिक स्तर पर प्रशिक्षित हैं। फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज [FMS] में वह फैकल्टी बोर्ड के सदस्य हैं, और इंद्रप्रस्थ इंस्टीट्यूट ऑफ इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, दिल्ली में बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्य भी हैं। वह इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी दिल्ली में रिसर्च स्कॉलर हैं और साथ ही मैसाच्युसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बोस्टन, यूएसए के विजिटिंग स्कॉलर भी हैं।